Anurag got a new lifeBack

ये आसमान का इशारा,,

कल का सूरज तुम्हारा है,,

अनुराग ने ली चैन की साँस ......... हुआ दिल में छेद का नि : शुल्क ऑपरेशन

मध्य प्रदेश स्थित उमारिया जिले के रहने वाले मोहन कुमार के 12 वर्षीय पुत्र अनुराग जन्म से दिल में छेद की बीमारी से ग्रसित थे। अनुराग के  पिता मजदूरी का काम करके महज छः हजार रूपये महीना कमाते है। जिससे वह बड़ी मुश्किल से अपने 5 सदस्यीय परिवार का पालन- पोषण कर पाते है ।न तो वो पढ़ पाता  और न दूसरे बच्चो की तरह खेल पाता था , मोहन  अपने बच्चे को कई जगह लेकर गए मगर हालत जैसे की जैसी,अनुराग की हालत दिन ब दिन बिगड़ती जा रही थी। काफी मशक्कत के बाद उन्होंने जयपुर के नारायण ह्रदयालये हॉस्पिटल में अपने बच्चे  का चेक-अप करवाया जहा डॉक्टर  ने ऑपरेशन के लिए बताया जिसका  खर्च   199340 रूपये बताया गया। दूसरे लोगो के यहाँ मजदूरी करके महीने के 5000  - 6000 रूपये कमाने वाले मोहन के लिए इतनी बड़ी राशि जुटा पाना जैसे खुद को बेचने के बराबर था । इन्ही विकट परिस्थिति में उन्हें उम्मीद की एक किरण दिखायी दी। सेवा परमो धर्म ट्रस्ट। मोहन  अपने बेटे को लेकर लेकर उदयपुर आये और ट्रस्ट से अपने बच्चे की मदद के लिए गुहार की। ट्रस्ट ने बच्चे  और परिवार की हालत को देखते हुए  समस्त करुणा ह्रदये दानदाताओ की मदद से जयपुर के नारायण ह्रदयालये हॉस्पिटल में सफल ऑपरेशन करवाया । आज अनुराग  को पढ़ने और खेलने में  कोई दिक्कत नहीं आती है।