Abhay das got a new beautiful lifeBack

अभय दास को मिली दिल के आॅपरेशन मे सहायता  
नई दिल्ली के रहने वाले अशोक कुमार के 4 वर्षीय सुपुत्र अभय दास के बचपन से ही दिल मे छेद है। बच्चे को शुरूआत से ही बहुत दिक्कत होती थी। दिन-ब-दिन बच्चा कमजोर पड़ता जा रहा था। बच्चे को सांस लेने मे बहुत दिक्कत आती थी। अशोक कुमार अपने बच्चे को लेकर कही जगह गये मगर बच्चे कि तबीयत सही नही हो रही थी। तब इन्होने दिल्ली के एक प्राईवेट हास्पीटल मे अपने बेटे का चेक-अप करवाया जहाॅ डाॅक्टर ने दिल मे छेद बताया और जिसके आॅपरेशन के लिए करीब 1 लाख रूपये का खर्चा बताया। अशोक कुमार के पास इतने पैसे नही थे कि वो अपने बच्चे का आॅपरेशन करवा सके। महीने के 5 - 6 हजार रूपये कमाकर अपने परिवार के 5 सदस्यो का खर्चा चलाने वाले अशोक कुमार निराश थे क्योकि वो अपने बच्चे का आॅपरेशन नही करवा पा रहे थे। एक दिन उनको टी.वी. के माध्यम से सेवा परमो धर्म ट्रस्ट द्वारा आयोजित हार्ट कैम्प के बारे मे जानकारी मिली तो वो तुरंत अपने बच्चे को लेकर उदयपुर आये जिसमे उनके बच्चे का चेक-अप किया गया और आॅपरेशन कि दिनांक दी गई और कुछ दिन बाद बच्चे का जयपुर के नारायण हृदयालये हास्पीटल मे आॅपरेशन किया गया बच्चे के आॅपरेशन मे करीब 90 हजार रूपये का खर्चा आया और सारा खर्चा सेवा परमो धर्म ट्रस्ट के माध्यम से दादा कान हसोमल लखानी द्वारा वहन किया गया। आज अभय दास बिल्कुल स्वस्थ है।